Wo Nasibon Se Jyada Lyrics (वो नसीबों से ज़्यादा दे रहा है लिरिक्स)

बिन पानी के नाव खे रहा है,बिन पानी के नाव खे रहा है,वो नसीबों से ज़्यादा दे रहा है। भूखे उठते है पर, भूखे सोते नहीं,दुःख आते है हम पर तो रोते नहीं,भूखे उठते है पर, भूखे सोते नहीं,दुःख आते है हम पर, तो रोते नहीं,दिन रात खबर ले रहा है,दिन रात खबर ले रहा … Read more